आज हर कोई बोलेगा ‘ये दिल मांगे मोर’, ‘हाउ इज द जोश’ समेत देशभक्ति से भरपूर हैं ये 10 बेहतरीन डायलॉग


75th Independence Day 2022: 75वां स्वतंत्रता दिवस (75th Independence Day) देश में पूरे जोश के साथ मनाया जा रहा है. बच्चों से लेकर नौजवान और बुजुर्गों तक सभी के दिल में यही आ रहा है ‘हाउ इज द जोश’. अगर आप भी आज अपनी आजादी को अपने तरीके से सेलिब्रेट करने का मन बना रहे हैं और कुछ बेहतरीन डायलॉग के साथ अपनी फीलिंग शेयर करना चाह रहे हैं तो यह खबर आपकी फीलिंग को आवाज देने में मददगार साबित हो सकती हैं. क्योंकि आज हम आपके लिए बॉलीवुड की चुनिंदा देशभक्ति फिल्मों में से कुछ खास डायलॉग चुन कर लाए हैं जो  आपके अंदर देशभक्ति की भावना जगाते हैं.

‘उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक’ (Uri: The Surgical Strike)
विक्की कौशल ( Vicky Kaushal) की फिल्म ‘उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक’ (Uri: The Surgical Strike) का डायलॉग ‘हाउ इज द जोश’ हर किसी की जुबान पर चढ़ा रहता है. यह डायलॉग फिल्म की रिलीज के बाद यह बेहद लोकप्रिय हुआ था. इस फिल्म का कई और बेहतरीन डायलॉग्स हैं जो आपका खून खौलाने के लिए काफी हैं. जैसे: 1 – ‘ये ह‍िंदुस्तान अब चुप नहीं बैठेगा, ये नया ह‍िंदुस्तान है. ये घर में घुसेगा भी और मारेगा भी’. 2- ‘फर्ज और फर्जी में एक मात्रा का अंतर होता है. अगर मैं अपने देश और अपने भाइयों के लिए अब नहीं लड़ा तो अपनी नजरों में फर्जी बनकर रह जाऊंगा.’ भी काफी वायरल है.

केसरी (Kesari)
अक्षय कुमार ( Akshay Kumar) की फिल्म ‘केसरी’ (Kesari) सारागढ़ी की लड़ाई की एक अविश्वसनीय सच्ची कहानी पर आधारित है जिसमें 1897 में 21 सिखों की एक सेना ने 10,000 अफगानों के खिलाफ लड़ाई लड़ी थी. फिल्म में अक्षय ने कई बार कुछ ऐसे डायलॉग बोले जिसे सुनकर हर किसी का सीना चौड़ा हो गया था.  ‘केसरी’ में अक्षय कुमार ने जब कहा था, 1- ‘एक गोरे ने मुझसे कहा था कि तुम गुलाम हो, हिंदुस्तान की धरती से डरपोक पैदा होते हैं, आज जवाब देने का वक्त आ गया है.’ 2- ‘केसरी रंग का मतलब समझते हो, शहीदी का रंग है, बहादुरी का’.

राजी (Raazi)
फिल्म राजी (Raazi) में एक अंडरकवर रॉ एजेंट की भूमिका निभाने वाली आलिया भट्ट (Alia Bhatt) ने कहा, 1- ‘वतन के आगे कुछ नहीं, खुद भी नहीं.’
फिल्म राजी का एक बेहतरीन डायलॉग है – 2- ‘हमारे इतिहास में ऐसे कई लोग हैं, जिन्हें कोई ईनाम या मेडल नहीं मिलता, हम उनका नाम तक नहीं जानते, न ही उन्हें पहचानते हैं, सिर्फ वतन के झंडे पर अपनी याद छोड़ जाते हैं.’

‘शेरशाह’ (Shershaah)
सिद्धार्थ मल्‍होत्रा (Sidharth Malhotra) और कियारा आडवाणी (Kiara Advani) की फिल्‍म ‘शेरशाह (Shershaah) कैप्‍टन विक्रम बत्रा की बायॉपिक (Captain Bikram Batra Biopic) थी. फिल्‍म करगिल युद्ध में कैप्‍टन बत्रा के पराक्रम और साहस के बूते देश की जीत और निजी जिंदगी से जुड़ी घटनाओं के इर्द-गिर्द घूमती है. इस फिल्म में कई ऑरिजनल डायलॉग्स हैं जिसे खुद कैप्‍टन बत्रा ने कहा था, 1- जिन्हें सुनकर हर भारतीय जोश के साथ कहता है ‘ये दिल मांगे मोर’, दूसरा उन्होंने अपने दोस्त से कहा था, ‘तिरंगा लेकर आउंगा, नहीं तो उसमें लिपट कर आउंगा, लेकिन आउंगा जरूर.’

चक दे इंडिया! (Chak De! India)
साल 2007 में रिलीज ‘चक दे इंडिया!’ (Chak De! India) में शाहरुख खान (Shahrukh Khan) ने कबीर खान का रोल निभाया था. महिला हॉकी टीम के कोच के तौर पर उनके ये डायलॉग्‍स आज भी रोंगटे खड़े कर देते हैं. उनमें एक सबसे खास और दिलचस्प रहा- ‘मुझे स्‍टेट्स के नाम न सुनाई देते हैं, न दिखाई देते हैं… सिर्फ एक मुल्‍क का नाम सुनाई देता है I-N-D-I-A’

Tags: 75th Independence Day, Film, Independence, Independence day, Shershaah



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.