माइक टायसन बोले- ‘ऐसी जगह रहा जहां हत्या और वेश्यावृत्ति आम बात थी’, सद्गुरु ने की ‘कमल के फूल’ से तुलना


नई दिल्ली: विश्व प्रसिद्ध मुक्केबाज और एक्टर माइक टायसन (Mike Tyson) ने हाल में आध्यात्मिक गुरु सद्गुरु के साथ बातचीत की. उन्होंने अपनी बातचीत के दौरान अपने शुरुआती जीवन के बारे में बताया. उन्होंने उस तरह के माहौल के बारे में बात की, जहां उनका पालन-पोषण हुआ था. उन्होंने कहा कि वे ऐसी जगह रहे, जहां हत्या और वेश्यावृत्ति आम बात थी. टायसन की बात सुनने के बाद, सद्गुरु इस नतीजे पर पहुंचे कि बॉक्सर एक ‘कमल के फूल’ की तरह हैं, जो कीचड़ में उगता है और फलता-फूलता है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, टायसन ने अपनी बातचीत के दौरान कहा, ‘मैंने कभी नहीं सोचा था कि जिस माहौल में रहा, वहां मेरे साथ कभी कुछ अच्छा हो सकता है. आपको हमेशा लोगों को मरते हुए देखने पर बुरा लगता है. वहां लोगों को मरते देखना, वेश्याओं को देखना, उस तरह की गंदी चीजें देखना सामान्य बात थी.’

सद्गुरु ने माइक टायसन के जीवन पर अपनी राय देते हुए कहा, ‘योगिक कल्चर में, हम हमेशा कमल के फूल का उपयोग मानव विकास के प्रतीक के रूप में करते हैं. कमल का फूल वहां सबसे अच्छा फलता-फूलता है, जहां गंदगी वाकई में ज्यादा होती है. यह गंदगी में रहता है, पर उससे अछूता और सुगंधित होता है.’

सद्गुरु ने माइक टायसन को कहा ‘कमल का फूल’
सद्गुरु ने आगे कहा, ‘यह विकल्प हम सभी के पास है. हम या तो गंदगी से एलर्जी विकसित कर सकते हैं और भाग सकते हैं या फिर हम गंदगी का हिस्सा बन सकते हैं या हम सुगंधित फूल में खिल सकते हैं. यह एक ऐसा विकल्प है जो हर इंसान के पास हर पल होता है.’ आध्यात्मिक गुरु के शब्दों ने टायसन को यह कहने पर मजबूर कर दिया, ‘हां, मैं फूलों से युक्त हूं.’ उनकी प्रतिक्रिया से सद्गुरु सहित सभी लोग हंसने लगे.

माइक टायसन ‘लाइगर’ में आए थे नजर
माइक टायसन साल 1987 में 20 साल की उम्र में सबसे कम उम्र के हैवीवेट चैंपियन बने थे. उन्होंने अपने करियर के दौरान 50 जीत दर्ज की, जिसमें 44 जीत नॉकआउट से आई. उन्होंने हाल में पुरी जगन्नाथ की ‘लाइगर’ में काम किया था और विजय देवरकोंडा, अनन्या पांडे के साथ स्क्रीन साझा की थी. फिल्म निर्माताओं ने टायसन के साथ लास वेगास में शूट का बीटीएस वीडियो भी शेयर किया था.

Tags: Mike tyson



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *