राज कपूर ने वैजयंती माला को स्विमसूट पहनने के लिए ऐसे किया था राजी, एक्ट्रेस की दादी से करवाई थी सिफारिश


बॉलीवुड की पहली डांसिंग क्वीन वैजयंती माला (Vyajyantimala) ने शनिवार को अपना 86वां जन्मदिन मनाया. वे एक मशहूर क्लासिकल डांसर और एक्ट्रेस हैं. वैजयंती माला ने राज कपूर (Raj Kapoor) की फिल्म ‘संगम’ सहित कई लोकप्रिय फिल्मों में अभिनय किया था. उन्होंने फिल्म में एक गाने के लिए स्विमसूट भी पहना था और यह पहली बार था जब उन्होंने इसे ऑनस्क्रीन पहना था.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, राज कपूर चाहते थे कि वैजयंती फिल्म के गाने ‘बोल राधा बोल’ के लिए स्विमसूट पहनें, पर इसके लिए उन्हें वैजयंती की दादी को मनाना पड़ा था. राज कपूर ने वैजयंती की दादी के चरणों में बैठकर उन्हें मनाया, ताकि वे वैजयंती को स्विमसूट पहनने की अनुमति दे दें. यह कहना गलत नहीं होगा कि राज कपूर ने एक तरह से वैजयंती की दादी से सिफारिश करवाई थी.

हालांकि, वैजयंती माला हिंदी फिल्मों में स्विमसूट पहनने वाली पहली महिला नहीं थीं, लेकिन ऐसा करने वाली वे पहली दक्षिण भारतीय थीं. वैजयंती माला ने अपनी किताब ‘Bonding..A Memoir’ में लिखा है, ‘राज कपूर के बारे में मेरी पहली धारणा यह थी कि वे बहुत खुशमिजाज थे, दादी के साथ बहुत प्यारे थे. वे उनके चरणों में बैठते थे, उनके हाथ पकड़ते थे, उनकी ओर देखते थे और अम्माजी-अम्माजी कहकर उनसे विनती करते थे.’

राज कपूर को जब वैजयंती की दादी को पड़ा था मनाना
किताब में आगे लिखा है, ‘वे असल जिंदगी में भी एक बेहतरीन एक्टर थे. हे भगवान, वे अपनी फिल्मों के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते थे. अगर वे एक खास तरीके से कोई सीन करना चाहते थे, तो वे जानते थे, उसे कैसे करना है. वे कहते थे-अम्मा जी, सब ठीक रहेगा, क्योंकि वे पानी में रहेंगी. यह सब एक लंबे शॉट में होगा और बाकी एक डुप्लिकेट के जरिये शूट होगा. मैं पूल में कूदने से पहले पूरी तरह से ढकी हुई थी, लेकिन घंटों पानी में रहना, बहुत मुश्किल था. दादी ने मुझे भरोसा दिलाया कि हम सब वहां मौजूद रहेंगे और चीजें हमारे हाथ में रहेंगी.’

वैजयंती माला ने जब राज कपूर से दादी से अनुमति लेने के लिए कहा
वैजयंती माला की किताब ‘बॉन्डिंग..ए मेमॉयर’ 2007 में लॉन्च की गई थी. एक्ट्रेस ने यह भी याद किया कि कैसे वे पहली बार फिल्म में काम करने के लिए सहमत हुई थीं. एक्ट्रेस ने बताया कि उन्होंने राज कपूर को अपनी दादी से अनुमति लेने के लिए कहा था. एक्ट्रेस ने बताया था, ‘दादी ने महान आरके के बारे में सभी रंगीन किस्से सुने थे. वे लड़कियों के बीच मशहूर थे, इसलिए शुरू में दादी मेरे इस असाइनमेंट में काम करने को लेकर पक्का नहीं थीं, लेकिन वे यह भी जानती थीं कि उन्होंने बड़े स्तर पर काम किया है.’

वैजयंती माला को जब राज कपूर का टेलीग्राम मिला
वैजयंती माला ने मशहूर गाने के बनने की कहानी को याद करते हुए कहा, ‘आरके ने मुझे बॉम्बे से एक टेलीग्राम भेजा, जिसमें लिखा था, ‘बोल राधा बोल ‘संगम’ होगा की नहीं’. मैंने इसे दादी के सामने रख दिया और उन्होंने कहा कि मैं आगे बढ़ सकती हूं, इसलिए मैंने जवाब भेजा, ‘संगम होगा, होगा, जरूर होगा…’ एक्टेस को ‘संगम’ के अलावा ‘नया दौर’, ‘आशा’, ‘साधना’, ‘मधुमती’ और ‘गंगा जमुना’ जैसी कई हिट फिल्में मिली हैं. उन्होंने कई तमिल और तेलुगु फिल्मों में भी काम किया है.

Tags: Raj kapoor



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.