An Action Hero Review: कम्फर्ट जोन से बाहर निकले आयुष्मान खुराना, भारी पड़े जयदीप अहलावत


ऐप पर पढ़ें

फिल्म: एन एक्शन हीरो
कलाकार: आयुष्मान खुराना, जयदीप अहलावत, जितेंदर हुड्डा, हितेन पटेल
निर्देशक: अनिरुद्ध अय्यर

आयुष्मान खुराना और जयदीप अहलावत स्टारर फिल्म ‘एन एक्शन हीरो‘ (An Action Hero) शुक्रवार को सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। आयुष्मान पिछले कुछ समय से अलग तरह के विषयों पर फिल्में करते आए हैं। इस बार उन्होंने मसाला फिल्म की है जिसमें वो एक्शन सीक्वेंस फिल्माते दिखे। फिल्म के निर्देशक अनिरुद्ध अय्यर हैं। इसके गाने पहले से ही हिट हो चुके हैं। नोरा फतेही और मलाइका अरोड़ा के साथ अलग-अलग गानों पर आयुष्मान थिरकते दिखे। अगर आप भी फिल्म देखने का प्लान बना रहे हैं तो जानिए कैसी है ‘एन एक्शन हीरो‘।

क्या है फिल्म की कहानी?

आयुष्मान खुराना एक्शन हीरो मानव खुराना बने हैं। वह एक स्टार है जिसने गैंगस्टर की बायोपिक को रिजेक्ट कर दिया क्योंकि वह अंडरवर्ल्ड के लोगों से दूर रहना चाहता है। इस बीच वह हरियाणा में अपनी फिल्म की शूटिंग कर रहा है और पैकअप के बाद अपनी नई गाड़ी के साथ ड्राइव पर निकल पड़ता है लेकिन दुर्घटनावश विकी सोलंकी की मौत हो जाती है जो कि गैंगस्टर और जाट नेता भूरा सोलंकी (जयदीप अहलावत) का छोटा भाई है, अब वह अपने भाई की ‘हत्या’ का बदला लेना चाहता है। इसके लिए वह मानव को मारना चाहता है। फिल्म की कहानी हरियाणा से मुंबई होते हुए लंदन जा पहुंचती है जहां बचने और पकड़े जाने का खेल जारी है। 

कई सवालों का नहीं मिलता जवाब

अनिरुद्ध अय्यर ने कहानी को लिखा है। फिल्म देखते वक्त कई सवाल चलते रहते हैं जैसे मानव और भूरा की यह लड़ाई अचानक लंदन कैसे पहुंच जाती है? भूरा को लंदन में हथियार लाने की परमिशन कैसे मिली? मानव बड़ी आसानी से लंदन पुलिस को घुमाता है और भागने में कामयाब हो जाता है। सबके हाथ में बंदूक है और हर कोई शूटिंग कर रहा है, कोई नहीं जानता क्यो? और हर बार एक गलत आदमी मारा जाता है।

कैसा है आयुष्मान और जयदीप का काम?

फिल्म में एक लाइन है, ‘एक्शन हीरो को गुस्सा आता है तो जनता का पैसा वसूल होता है।‘ आयुष्मान इस पर खरे उतरते हैं। फिल्म में वह अपने कम्फर्ट जोन से बाहर निकलते दिखे हैं। फैन्स उन्हें और चुनौतीपूर्ण भूमिकाओं में देखना चाहते हैं। फिल्म देखने के बाद उनके कई वन लाइनर याद रह जाते हैं जैसे ‘लड़ना मेरा काम है, शौक नहीं‘ और‘एक्शन हीरो हूं, ताकत का इस्तेमाल आखिर में करता हूं।‘ हरियाणवी किरदार में जयदीप अहलावत बिल्कुल फिट बैठते हैं। उनका हरियाणवी एक्सेंट हो या एक्शन सीक्वेंस, कई जगह वह आयुष्मान पर भारी पड़ते हैं। नीरज यादव का स्क्रीनप्ले दर्शकों को बांधे रखने में कायमाब है। कोरियाग्राफी और फाइट सीक्वेंस को अच्छी तरह से फिल्माया गया है। कौशल शाह की सिनेमैटोग्राफी की तारीफ करनी पड़ेगी जिन्होंने ग्रामीण इलाकों को इतनी खूबसूरती के साथ दिखाया है। 

जरूर देखिए फिल्म

एक्शन के साथ कॉमेडी पंच लाइन देखना चाहते हैं तो ‘एन एक्शन हीरो‘ जरूर देखिए। बॉक्स ऑफिस पर इस वक्त ‘दृश्यम 2‘ छाई हुई है। अगर आयुष्मान की इस फिल्म को सिनेमाघरों में अच्छा रिस्पॉन्स मिला तो यह बॉलीवुड के लिए राहत की बात होगी। 

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *