Cannes Film Festival 2022: इंडिया को बनाया गया ‘कंट्री ऑफ ऑनर’, पहली बार किसी देश को मिला ऐसा सम्मान


Cannes Film Festival: भारत आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर आजादी का महोत्सव पूरे देश में मना रहा है. एक ओर भारत के प्रधानमंत्री पीएम मोदी (PM Modi) की मुलाकात फ्रांस के प्रधानमंत्री के साथ चल रही है, तो वहीं दूसरी ओर ‘कान्स फिल्म फेस्टिवल 2022 (Cannes Film Festival 2022)’ में कंट्री ऑफ ऑनर भारत को बनाया गया है. ये जानकारी केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने दी. अनुराग ठाकुर ने बताया कि पहली बार किसी देश को ये सम्मान मिला है तो वो भारत है. ये सम्मान भारत से शुरू हो रहा है. बाकी अगले सालों से नए देशों को बनाया जाएगा.

इसमें पांच नए स्टार्ट अप को मौका मिलेगा. आडियो वीडियो इंडस्ट्री में अपना काम दिखाने का मौका मिलेगा. 10 नए प्रोफेशनल्स को भी मौका मिलेगा. दो अलग-अलग कैटेगरी में 5 फिल्म दिखाई जाएगी. प्रतिद्वंदी कान्स क्लासिक सेक्शन में दिखाई जाएगी. वहां पर डेडीकेटेड इंडियन पैवेलियन होगा और इस इंडिया पैवेलियन में भारत को कंटेंट हब बनाने पर फोकस होगा. इसके साथ ही कुछ और फैसले आने वाले समय में लिए जाएंगे.

भारत स्टार्ट अप के लिए जाना जाता है- अनुराग ठाकुर
अनुराग ठाकुर ने आगे बताया कि भारत स्टार्ट अप के लिए जाना जाता है, इसलिए पांच नए स्टार्ट अप को जाने का मौका मिलेगा, जो अपना काम दिखा सकते हैं. फिल्म उद्योग भारत के सॉफ्ट पॉवर के तौर पर जानी जाती है. इसके अलावा सत्यजीत रे के काम को भी इसमें दिखाया जाएगा. पूरे ‘कान्स फिल्म फेस्टिवल’ में एक ही फोकस होगा भारत कंटेंट ऑफ द वर्ल्ड बने. ये सम्मान भारत से ये शुरू हो रहा है. हर साल नया देश होगा और आज पीएम भी फ्रांस में हैं.

वर्ल्ड प्रीमियर के लिए चुना गया आर माधवन की फिल्म
अनुराग ठाकुर ने बताया कि ‘कान्स फिल्म फेस्टीवल’ में वर्ल्ड प्रीमियर के लिए आर माधवन की फिल्म रॉकेट्री: द नांबी इफेक्ट (इसरो के पूर्व वैज्ञानिक नंबी नारायणन पर आधारित) को स्क्रीनिंग के लिए चुना गया है. पांच और फिल्मों का चयन किया गया है. सत्यजीत रे की क्लासिक प्रतिद्वंदी भी दिखाई जाएगी. इस बार कान्स में भारत के लिए अपने कंटेंट को प्रमोट करने के लिए एक एक्सक्लूसिव फोरम भी होगा.

इंडिया को कंटेंट हब बनाया जाए
उन्होंने आगे कहा कि हम सबका प्रयास है कि इंडिया को कंटेंट हब बनाया जाए. खासतौर पर इंडिया पैवेलियन भी वहां पर होगा और 18 मई को इसका उद्घाटन होगा. भारत को एक बड़ा अवसर मिला है. वहां पर एक सिनेमा हॉल में 22 मई को भारत की फिल्मों को दिखाया जाएगा. क्लासिक सेक्शन में भी फिल्म दिखाई जाएगी. उन्होंने कहा कि हमारी प्राथमिकता है कि भारत को फिल्म शूटिंग प्रोडक्शन हब के तौर पर स्थापित किया जाए और थीम होगी भारत कंटेंट हब.

Tags: Anurag thakur, Festival De Cannes



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.