KRK ने जमानत होते ही ट्विटर पर किया अपनी वापसी का ऐलान, बोले- ‘बदला लेने आ गया हूं’


अभिनेता और सेल्फ क्लेम्ड फिल्म क्रिटिक कमाल आर खान (Kamaal R Khan) बीते दिनों अपने पुराने ट्वीट्स के चलते सलाखों के पीछे थे. हाल ही में उन्हें मामले में जमानत मिली है. जेल से लौटते ही एक बार फिर कमाल आर खान ट्विटर पर भी वापस आ गए हैं. उन्हें पुराने ट्वीट्स के चलते मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया था, जिसके बाद उन्हें कुछ दिनों तक जेल में रहना पड़ा. हालांकि, अब जब जमानत मिल गई है तो केआरके एक बार फिर अपने पुराने अंदाज में भी वापस लौट आए हैं. उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी वापसी का ऐलान किया है. केआरके ने अपनी गिरफ्तारी के बाद पहली बार ट्वीट किया है.

कमाल आर खान का कहना है कि वह अपना बदला लेने वापस आ गए हैं. उन्होंने अपना ट्वीट भी इसी लाइन के साथ किया है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है- ‘अपना बदला लेने वापस आ गया हूं.’ केआरके का ट्वीट देखते ही यूजर्स ने उम्मीद जताई कि अब वह जल्दी ही ब्रह्मास्त्र का रिव्यू जारी करने वाले हैं. फिल्म की रिलीज से पहले उन्होंने इसे लेकर काफी कुछ कहा था और इसे सुपर फ्लॉप भी बताया था. लेकिन, इसके विपरीत फिल्म बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा रही है.

केआरके का ट्वीट.

बता दें, केआरके को 30 अगस्त को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया था. उन्हें दो अलग-अलग मामलो में गिरफ्तार किया गया था. एक बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार और फिल्म निर्माता अक्षय कुमार के बारे में किए कथित अपमानजनक ट्वीट मामले में और दूसरा वर्सोवा पुलिस स्टेशन में 2021 में दर्ज हुए छेड़छाड़ मामले में. पुलिस ने दावा किया है कि केआरके की पोस्ट सांप्रदायिक थी और उन्होंने बॉलीवुड हस्तियों को निशाना बनाया था.

हालांकि, केआरके के वकील अशोक सरोगी और जय यादव ने जमानत याचिका में कहा कि विचाराधीन ट्वीट केवल “लक्ष्मी बम” (जो सिर्फ ‘लक्ष्मी’ के नाम से रिलीज हुई) शीर्षक वाली फिल्म पर कमेंट किया था और पुलिस द्वारा आरोपित कोई अपराध नहीं था. छेड़छाड़ के मामले में केआरके के वकीलों अशोक सरोगी और जय यादव ने बांद्रा मजिस्ट्रेट कोर्ट के समक्ष दायर उनकी जमानत याचिका में दावा किया कि एफआईआर का कॉन्टेंट कथित छेड़छाड़ की घटना से व्यावहारिक रूप से मेल नहीं खाती.

Tags: Bollywood, Bollywood news, Kamaal R Khan



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.