Nag Panchami 2022: 1954 में पहली बार फिल्म ‘नागिन’ में बजी थी बीन, सांपों को लेकर फैली थी अफवाह!


Nag Panchami 2022 and Films: सावन मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को देश भर में नाग पंचमी का त्योहार धूम धाम से मनाया जा रहा है. धार्मिक मान्यता के अनुसार हिंदू धर्म में सांपों को विशेष स्थान दिया गया है. नाग देवता की पूजा अर्चना के लिए आज विशेष दिन है. नाग-नागिन की कहानी फिल्मकारों को भी बेहद आकर्षित करती है. इस विषय पर बनी अधिकतर फिल्में हिट रही हैं. चलिए दिग्गज एक्ट्रेस वैजयंतीमाला और प्रदीप कुमार स्टारर 1954 में आई फिल्म ‘नागिन’ (Nagin) से जुड़े कुछ दिलचस्प किस्से बताते हैं.

एक दौर था जब नागिन पर आधारित कई फिल्में बनती थीं और दर्शकों को भी बहुत पसंद आती थी. नाग-नागिन की कहानी पर बनी फिल्मों में बीन की धुन पर नाचती एक्ट्रेस को दर्शक हाथों-हाथ लेते थे. श्रीदेवी को तो फिल्म ‘नगीना’ की वजह से आज भी याद किया जाता है. मीडिया रिपोर्ट की माने तो सिल्वर स्क्रीन पर पहली बार धुन पर 1954 में आई फिल्म ‘नागिन’ में बजी थी.

 ‘मन डोले मेरा तन डोले’ में बजा बीन
इस फिल्म का गाना ‘मन डोले मेरा तन डोले’ इतना पॉपुलर हुआ था कि आज भी इसे सुना और सुनाया जाता है. इस गाने की धुन और वैजयंतीमाला की कमाल की अदाकारी ने इस गाने को सुपरहिट बना दिया. इसी गाने में पहली बार सपेरे की बीन को सिनेमाघर में सुना गया था. ये धुन इतनी फेमस हुई थी कि कई तरह की अफवाहें भी सुनने को मिली थीं. यहां तक कहा गया था कि जब सिनेमाघरों में बीन बजने की धुन सुनाई देती थी तो असली सांप भी पहुंच जाया करते थे.

बीन की धुन क्रिएट करने का दिलचस्प किस्सा
‘मन डोले मेरा तन डोले’ को आप सुनेंगे तो इसमे बीन की धुन इतनी कमाल की है कि आप भी एक बार झूमने को मजबूर हो जाएंगे. फिल्म ‘नागिन’ में संगीत हेमंत कुमार ने दिया था. हेमंत दा उस समय कल्याण जी और रवि के साथ बतौर असिस्टेंट काम किया करते थे. कहते हैं कि कल्याण जी ने बीन की धुन निकालने के लिए क्लैवॉयलिन नामक इलेक्ट्रॉनिक म्यूजिकल कीबोर्ड पर बनाया था, जबकि सच्चाई ये है कि रवि ने इस हारमोनियम पर रचा था और कल्याण जी ने क्लैवॉयलिन से सपोर्ट किया था.

‘नागिन’ में बीन की धुन रवि ने बनाई थी
साल 2011 में दिए एक इंटरव्यू में रवि ने बताया था कि ‘नागिन’ में बीन की धुन उन्होंने ने ही बनाई थी. साथ ही ये भी खुलासा किया था कि ये धुन असल में गोवा की एक पियानो प्लेयर ने बनाई थी. उसकी धुन वेस्टर्न थी तो मैंने इसमें भारतीयता का पुट देते हुए थोड़ा बदलाव कर दिया था’. तो इस तरह पर्दे पर पहली बार प्रदीप कुमार ने बीन बजाई और नागिन बनी वैजयंतीमाला झूम के नाचीं.

Tags: Bollywood, Bollywood actors, Music



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.