Sridevi Birth Anniversary: 4 साल की उम्र से एक्टिंग करने वाली पहली फीमेल Superstar श्रीदेवी को इस बात का रहा मलाल!


श्रीदेवी (Sridevi) हिंदी सिनेमा की मशहूर एक्ट्रेस थीं. श्रीदेवी ने जब ‘नगीना’ में बीन की धुन पर डांस किया तो देश भर की लड़कियां नाचने लगीं और जब ‘चांदनी’ में अपने हाथों में नौ-नौ चूड़ियों की खनक दिखाई तो कोई भी फंक्शन इसके बिना पूरा ही नहीं होता था. श्रीदेवी जब-जब पर्दे पर आतीं तो दर्शक दिल थाम कर एकटक निहारते रह जाते और जब वो नाचतीं तो सिनेमाघर डांस रुम में तब्दील हो जाते. ऐसी एक्ट्रेस के लिए जितनी दीवानगी पहले थी उतनी आज भी है. करीब 50 साल फिल्म दुनिया में बिताने वाली श्रीदेवी ने गजब की शोहरत कमाई तो खूब कमाई भी की. उन्हें किसी बात की कोई कमी नहीं थी सिर्फ एक बात का मलाल मरते दम तक रहा. चलिए हिंदी सिनेमा की पहली फीमेल सुपरस्टार की बर्थ एनिवर्सरी पर बताते हैं उनसे जुड़े कुछ किस्से.

श्रीदेवी भले ही अब दुनिया में नहीं हैं लेकिन शानदार एक्टिंग और डांस स्किल की वजह से उन्हें कोई भूल नहीं पाया है. अपनी चुलबुली अदाओं और बोलती आंखों से लाखों लोगों को दीवाना बना देने वाली श्रीदेवी का जन्म 13 अगस्त 1963 में तमिलनाडु में हुआ था. मां-बाप ने नाम रखा था श्री अम्मा यंगर अयप्पन. जब ये बच्ची 4 की साल हुई तभी एक्टिंग की दुनिया में कदम रख दिया. श्री अम्मा जब बड़ी हुईं तो स्क्रीन नाम श्रीदेवी रख दिया गया. श्री अम्मा को श्रीदेवी नाम किसने दिया इसे लेकर कुछ लोग कहते हैं कि उनकी मां ने रखा तो कुछ लोग इसका श्रेय साउथ के एक सुपरस्टार को देते हैं.

मां श्रीदेवी के साथ जाह्नवी कपूर.

श्रीदेवी के पास पर्सनल वैनिटी वैन था
बहरहाल, जिसने भी रखा हो, उसे शायद ये एहसास नहीं रहा होगा कि ये नाम एक दिन हिंदी सिनेमा का सबसे चर्चित नाम बन जाएगा और ये बच्ची बॉलीवुड की पहली फीमेल सुपरस्टार कहलाएगी. अपने करियर में करीब 63 हिंदी, 62 तेलुगू, 58 तमिल, 21 मलयालम और कन्नड़ फिल्में करने वाली श्रीदेवी 90 के दशक की सबसे महंगी एक्ट्रेस हुआ करती थीं. फिल्ममेकर भी मुंहमांगी फीस देने के लिए तैयार रहते थें, क्योंकि उन्हें पता था कि जितना पैसा लगाएंगे उसका 4 गुना कमाएंगे. कहते हैं कि फिल्म जगत में अपनी पर्सनल वैनिटी वैन खरीदने वाली भी पहली एक्ट्रेस श्रीदेवी थीं.

‘हिम्मतवाला’ फिल्म से मिली शोहरत
तमिल-तेलुगु फर्राटे से बोलने वाली श्रीदेवी ने जब हिंदी फिल्मों में काम शुरू किया तो उन्हें हिंदी नहीं आती थी. इसीलिए पहले उनकी फिल्मों को डब करवाया जाता था. श्रीदेवी की पहली हिंदी फिल्म ‘सोलवां सावन’ थी जो 1979 में रिलीज हुई थी. कहते हैं कि इस फिल्म के करीब चार साल बाद 1983 में जब फिल्म ‘हिम्मतवाला’ रिलीज हुई तो हर तरफ श्रीदेवी का जलवा था. इस फिल्म की सफलता ने उन्हें बुलंदी पर पहुंचा दिया था.

फीमेल सुपरस्टार का दर्जा मिला
श्रीदेवी ने कई सुपहिट फिल्मों में काम कर अपना ऐसा जादू बिखेरा कि उन्हें फीमेल सुपरस्टार का दर्जा मिल गया. चांदनी, नगीना, निगाहें, खुदा गवाह, मिस्टर इंडिया जैसी तमाम फिल्मों को एक्टिंग, एक्शन, कॉमेडी और डांस की वजह से हिट करवाने वाली एक्ट्रेस को तीन बार फिल्मफेयर और पद्मश्री सम्मान से नवाजा गया. अपने 50 साल के फिल्मी करियर में कई पुरस्कार मिले लेकिन उन्हें स्कूल नहीं जाने का जीवन भर मलाल रहा. जिस उम्र में बच्चे पेंसिल कॉपी लेकर स्कूल जाते हैं उस उम्र में तो वह चाइल्ड एक्ट्रेस बन गई थीं.

ये भी पढ़िए-श्रीदेवी ने जब जाह्नवी कपूर को दी थी ऐसी सलाह, एक्ट्रेस बोलीं- ‘नाम तो रोशन करना पड़ेगा’

श्रीदेवी की बेटियां भी एक्ट्रेस हैं
श्रीदेवी की पर्सनल लाइफ की बात करें तो जाने माने प्रोड्यूसर बोनी कपूर की दूसरी पत्नी बनीं. श्रीदेवी और बोनी कपूर की दो बेटियां जाह्नवी कपूर और खुशी कपूर हैं. जाह्नवी तो फिल्म इंडस्ट्री का हिस्सा हैं और खुशी भी बनने की राह पर चल पड़ी हैं.

Tags: Birth anniversary, Entertainment Throwback, Sridevi



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.