Video: ऋषि-मुनियों की घोर तपस्या से हुआ था ‘ब्रह्मास्त्र’ का निर्माण, अयान मुखर्जी ने बताई अस्त्रों की ये कहानी


आलिया भट्ट और रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor) की मच अवेटेड फिल्म ‘ब्रह्मास्त्र’ (Brahmastra) को लेकर लोगों के बीच काफी बज हुआ है. यह फिल्म 3 पार्ट में बनेगी. इसका पहला पार्ट 9 सितंबर को सिनेमा घर में रिलीज होगा. फिल्म की रिलीज से मेकर्स ने एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में फिल्म के डायरेक्टर अयान मुखर्जी ‘ब्रह्मास्त्र’ के बारे में बता रहे हैं. इसमें वह बता रहे हैं कि ब्रह्मास्त्र का निर्माण कैसे हुए और इसे ब्रह्मास्त्र क्यों कहा जाता है. इसके साथ ही वह बताते हैं कि उनकी फिल्म के आज के दौर की है और इस दौर में शिवा (रणबीर कपूर) नाम का एक यंग लड़का खुद ब्रह्मास्त्र है.

वीडियो की शुरुआत में 5 अस्त्रों- वानरास्त्र, नंदी अस्त्र, प्रभास्त्र, जलास्त्र, पवनास्त्र को इंट्रोड्यूस करवाया जाता है. आखिरी ‘ब्रह्मास्त्र’ का जिक्र होता है. इसके बाद अयान मुखर्जी ब्रह्मास्त्र के विजन के बारे में बताते हैं. अयान कहते हैं,”पिछले कुछ सालों में हमने अस्त्रों की एक अनोखी दुनिया बनाई है, जिसका नाम है ‘अस्त्रवर्स’. ब्रह्मास्त्र पार्ट वन इस अस्त्रवर्स की पहली फिल्म है.”

अयान मुखर्जी आगे कहते हैं, “इसकी शुरुआत प्राचीन भारत के एक सीन से होती है, जिसमें कुछ महान ज्ञानी ऋषि मुनि हिमालय की शरण में घोर तपस्या कर रहे हैं. और उनकी इस कड़ी तपस्या से उन्हें मिलता है एक वरदान. एक अपार अखंड ज्योत, जो स्वर्ग से धरती पर उतरती है. एक ब्रह्म शक्ति. इस ब्रह्म शक्ति से अस्त्रों का जन्म होता है. ये अस्त्र प्रकृति की विभिन्न शक्तियों से भरे हुए हैं. जलास्त्र, पवनास्त्र और अग्नि अस्त्र.”

ब्रह्मास्त्र का जन्म

अयान मुखर्जी आगे कहते हैं, ” कुछ ऐसे अस्त्र जो जानवरों की शक्तियों पर नियंत्रण पाते हैं, जैसे वानरास्त्रा जिसमें एक महावानर की शक्ति भरी हुई है. और नंदी अस्त्र, जिसमें हजारों नंदिंयों की शक्ति भरी हुई है. लेकिन अंत में जन्म होता है उस महास्त्र का जिसमें स्वयं ब्रह्म शक्ति समा जाती है. एक ऐसा सर्वशक्ति अस्त्र जिससे सारे अस्त्रों की शक्ति जुड़ी हुई है. और ऋषि मुनि इसे नाम देते हैं देवी-देवाताओं के सबसे शक्तिशाली अस्त्र का- ब्रह्मास्त्र.”

‘ब्रह्मास्त्र’ के ‘शिवा’ से पहले बॉलीवुड में ‘कोहिनूर’-‘भोला’ दिखा चुके हैं सुपरपावर, देखिए सुपरहीरोज की ये LIST

अस्त्रों की रक्षा करते हैं ऋषि मुनि

इसके बाद अयान बताते है कि ऋषि मुनि तबसे सभी अस्त्रों की रक्षा करते हैं और इन ऋषि मुनि को ब्रह्मांस कहते हैं. फिल्म में रणबीर कपूर खुद एक ब्रह्मस्त्रा बने हैं, जिसे अग्नि अस्त्र कहा जाता है. अमिताभ बच्चन, नागार्जुन एक ब्रह्मांस हैं. जो ब्रह्मास्त्र की रक्षा करते हैं.

Tags: Ayan mukerji, Brahmastra movie, Ranbir kapoor



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.